IRCTC tatkal booking rules 2020 - Timings, booking, charges and Cancellation rules

छुटियाँ बिताने या कही घुमने जाने के लिए हम सभी पहले से ट्रेवल प्लान कर के रिजर्वेशन करवा लेते है लेकिन अगर अचानक से कहीं जाना पड़ा जाए या किसी  इमरजेंसी के चलते आखिरी समय या आपात स्थिति में एक दम से कही जाने की नौबत आ जाए, तब रेल यात्रा में तत्काल टिकट बेहतरीन विकल्प होता है। भारतीय रेलवे में तत्काल टिकट की  व्यवस्था की शुरुआत 1997 से हुयी | अपनी सुविधा के हिसाब से इसको ऑनलाइन या बुकिंग काउंटर से भी बुक किया जा सकता है। तत्काल टिकट की बुकिंग यात्रा के निर्धारित दिन से कम से कम 24 घंटे पहले की जा सकती है। तत्काल टिकट बुकिंग के लिए आपको अतिरिक्त भुगतान यानि की प्रीमियम चार्जेज का भुगतान करना होता है. फर्स्ट कम फर्स्ट सर्व की तर्ज पर यह व्यवस्था रखी  गई है।  फर्स्ट एसी (1 AC) के अलावा सभी श्रेणियों के लिए तत्काल टिकट  बुक करवाया जा सकता हैं।

irctc-tatkal-booking-rules-2020-timings-charges-and-more


    तत्काल टिकट बुकिंग का समय 

    एसी क्लास (एग्जीक्यूटिव क्लास, एसी-2, एसी-3, एसी चेयर कार) के लिए तत्काल टिकट बुकिंग सुबह 10 : 00 बजे से और
    नॉन-एसी क्लास (स्लीपर क्लास, सेकंड सीटिंग ) के लिए  तत्काल टिकट बुकिंग सुबह 11:00 बजे शुरू होती है
    याद रखे तत्काल टिकट बुकिंग यात्रा के निर्धारित दिन से 24 घंटे पहले करनी होती है ।

    तत्काल टिकट किराया

    तत्काल टिकट किराये के रूप में आप से द्वितीय श्रेणी के लिए मूल किराये  का 10 प्रतिशत और अन्य सभी वर्गों के लिए मूल किराये का  30 प्रतिशत  तय किया गया है।

    तत्काल बुकिंग की निर्धारित दरें 

    IRCTC के जरिए टिकट बुकिंग पर दूसरी श्रेणी के लिए न्यूनतम किराया 10 रुपये और अधिकतम तत्काल शुल्क 15 रुपये लिया जाता है। स्लीपर क्लास के लिए यह दर न्यूनतम 90 रुपये और अधिकतम 175 रुपये है। ऐसे ही एसी चेयर क्लास के 100 रुपये और अधिकतम 200 रुपये। AC 3 Tier के लिए 250 रुपये न्यूनतम और अधिकतम 350 रुपये किराया लिया जाता  है। AC 2 Tier के लिए न्यूनतम 300 और अधिकतम 400 रुपये है। एक्जीक्यूटिव के लिए न्यूनतम किराया 300 और अधिकतम किराया 400 है।

    तत्काल टिकट बुकिंग के नियम 

    1. एसी क्लास की टिकटों की तत्काल बुकिंग यात्रा तिथि से एक दिन पहले सुबह 10 बजे से होती है और नॉन-एसी टिकटों की बुकिंग इसके एक घंटे बाद यानी 11 बजे से शुरू होती है.

    2. बुकिंग शुरू होने के आधे घंटे तक अधिकृत एजेंट तत्काल टिकट बुक नहीं कर सकते हैं ताकि आम लोगों को बुकिंग एजेंट की वजह से बुकिंग में कोई परेशानी  न आए इसके लिए व्यवस्था बनाई गई है .

    3. सिंगल यूजर आईडी से एक दिन में सिर्फ 2 तत्काल टिकट बुक कर सकते हैं. एक आईपी अड्रेस से भी अधिकतम 2 तत्काल टिकट बुक हो सकते हैं.

    4.  कुछ शर्तों के साथ तत्काल टिकट बुकिंग पर विशेष परिस्थितियों में 100 प्रतिशत तक रिफंड लिया जा सकता हैं.

    5. कोच डैमेज होने या बुक टिकट वाली श्रेणी में यात्रा की सुविधा नहीं मिलने पर आपको 100 प्रतिशत रीफंड मिल सकता है

    6. बुकिंग पेजों पर अब कैप्चा कोड की व्यवस्था कर दी गई है. ऐसा इसलिए किया गया है ताकि किसी सॉफ्टवेयर के जरिए बुकिंग एजेंट कोई फर्जीवाड़ा करके टिकट बुक न कर  सके.

    7. भुगतान के समय सभी पेमेंट ऑप्शंस के लिए OTP यानी वन टाइम पासवर्ड की व्यवस्था की गई है. ताकि सायबर फ्रॉड से बचा जा सके

    8. तत्काल टिकट की मदद से एक पीएनआर पर 4 लोगों की यात्रा के लिए टिकट बुक कराई जा सकती है।

    9. तत्काल टिकट बुकिंग के तहत आपको बुक कराए गए टिकिटों में नाम परिवर्तन की अनुमति नहीं होती है।

    10. डुप्लीकेट तत्काल टिकट वैसे तो जारी नहीं किया जाता है, सिर्फ विशेष परिस्थतियों में ही डुप्लीकेट तत्काल टिकट जारी किया जाता है। हालांकि इसमें भी यात्रा का पूरा किराया तत्काल चार्ज समेत लिया जाता है।

    11. तत्काल टिकट बुकिंग के दौरान आइडेंटिटी प्रूफ को उपलब्ध करवाने की जरूरत नहीं होती है। हालांकि यात्रा के दौरान यात्रियों को सिर्फ अपना एक पहचान पत्र दिखाना होता है।
    यात्रा के दौरान निम्नलिखित फोटो पहचान पत्र को वैध माना जाता है।

    आधार कार्ड।
    पासपोर्ट।
    वोटर कार्ड।
    ड्राइविंग लाइसेंस।
    पैन कार्ड।
    फोटोयुक्त राष्ट्रीयकृत बैंक पासबुक।
    फोटोयुक्त क्रेडिट कार्ड।
    सरकारी ऑफिस का पहचान पत्र।

    क्या कन्फर्म तत्काल टिकट पर रिफंड मिलता है ?

    आप में से अधिकतर लोगों को यही पता होगा की कन्फर्म तत्काल टिकट पर कोई रिफंड नही मिलता लेकिन यह बात पुरी तरह सही नहीं है कुछ परिस्थितियाँ ऐसी है जिनमे कन्फर्म तत्काल टिकट पर भी रिफंड संभव है


    इन स्थितियों में मिल सकता है 100% रिफंड
    तत्काल टिकट बुक कराने पर 100 प्रतिशत रिफंड कभी नहीं मिलता । लेकिन कुछ विशेष परिस्थितियों में यह 100 प्रतिशत रिफंड भी संभव है जो की निम्न स्तिथियों में संभव है -
    यदि आपकी ट्रेन का रूट डायवर्ट हो या ट्रेन आने में 3 घंटे या उससे ज्यादा का विलम्ब हो तो आप 100 प्रतिशत रिफंड के क्लेम के लिए पात्र  है।

    ट्रेन का रूट डायवर्ट हो जाने पर यदि आपका बोर्डिंग और डेस्टिनेशन स्टेशन डाइवर्ट रूट पर न हो या अगर आपको डाइवर्ट रूट पर यात्रा नहीं करनी हो तब भी पूरा रिटर्न मिलेगा।

    यात्री बुकिंग कोटे से लोअर कोच में यात्रा करता है तो तत्काल फीस के साथ टिकट के किराए का अंतर भी रेलवे आपको वापस करता है।

    वेटिंग टिकट वाला कर सकता है यात्रा : 

    अगर आप अपने काफी सारे दोस्तों के साथ सफर कर रहे हैं और आपमें से किसी एक का टिकट भी कंफर्म या आरएसी हो जाता है तो उस टिकट में अन्य वेंटिंग वाले सदस्य भी यात्रा कर सकते हैं।


    तत्काल टिकट बुकिंग में रियायत ?

    तत्काल बुकिंग में कोई रियायत उपलब्ध नही है। पी आर एस बुकिंग में आपको सीनियर सिटीजन, विकलांग कोटा और विभिन्न कोटा से अलग अलग रियायत का प्रावधान दिया गया है लेकिन तत्काल टिकट बुकिंग में आपसे पूरा किराया लिया जाता है बिना किसी रियायत के


    तत्काल टिकट कैंसिल करने के नियम ? और कितनी धन वापसी मिलती है ?

    कन्फर्म तत्काल टिकट रद्द करने पर कोई रिफंड नहीं मिलता है हालांकि जिन विशेष परिस्थितियों में यह मिलता है उनका जिक्र उपर किया जा चूका है । आंशिक रद्दीकरण और प्रतीक्षा तत्काल टिकट रद्द के करने पर मौजूदा रेलवे नियमों के अनुसार कटौती की जाती हैं ।

    WhatsApp

    Post a comment

    0 Comments